कैंडल मार्च – सामाजिक संवेदना एवं शांतिपूर्ण विरोध का पर्याय

आज मंदसौर में दिव्या के साथ हुई दुर्घटना और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए और दिव्या के जल्दी स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना के साथ फुसरो बाजार में बरनवाल महिला समिति के द्वारा शांति पूर्ण कैंडल मार्च निकाला गया जो ब्लाक परिसर स्थित बजरंगबली मंदिर से शुरू होकर भूत बंगला बजरंगबली मंदिर तक गया और वहां से वापस बाजार का भ्रमण करते हुए बजरंगबली मंदिर, बेरमो थाना में आकर समाप्त हुआ। जिसमें दो सौ से ऊपर महिलाओं की सहभागिता हुई। और यह एक अत्यंत सफल कार्यक्रम हुआ। और इसमें हमारे वार्ड पार्षद श्री नीरज पाठक जी भी साथ में थे और व्यवसाई संघ के सचिव प्रत्याशी ओमप्रकाशजी उर्फ राजा साथ चल रहे थे।

बेटियों के समर्थन में और उनके शोषण के विरुध्द शांति पूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन तथा जमकर नारेबाजी की गई, बेटी बचाओ, देश बचाओ, मंदसौर के अपराधियों को फांसी दो, फांसी दो. इस कैंडल मार्च में लड़कियों एवं महिलाओं ने भरी संख्या में भाग लिया. मौके पर कई सम्मानित महिलाओं एवं बच्चियों ने अपने-अपने विचार प्रकट किये, प्रियंका ने कहा – “हमें हर हाल में ऐसी बातों का सामना करना होगा और अपनी आवाज को समाज में उठाना होगा”

हमें प्रशासन के द्वारा भी पूरा सहयोग मिला। बेरमो थाना से एक पीसीआर वैन और सारे लोग हमारे साथ चल रहे थे। इस कार्यक्रम से समाज की सभी क्षेत्र के लोगों ने इस संदेश को जाना और इस घटना से वाकिफ़ हुए। मैं महिला समिति की सदस्यों का विशेषकर बरनवाल महिला समिति की नेत्री त्रय : श्रीमती मंजुरानी बरनवाल, श्रीमती अर्चना बरनवाल और श्रीमती पुष्प बरनवाल (सभी बरनवाल महिला समिति, फुसरो) और विशेष सहयोगी के रूप में बरनवाल समाज फुसरो के चमकते सितारे श्री विनय कुमार बरनवाल जी एवं श्री प्रदीप भारती जी को विशेष आभार व्यक्त करता हूँ। साथ ही बरनवाल युवक संघ, फुसरो की स्थानीय इकाई के सदस्यों को भी, जिन्होंने इस सफल कार्यक्रम का आयोजन किया बहुत-बहुत बधाई देता हूं। धन्यवाद देता हूं। – नीरज बरनवाल, आम्रपाली स्टूडियो, मेन रोड फुसरो.

जिस प्रकार मोमबत्ती जलती जाती है, पिघलती जाती है और अपना प्रकाश पुंज बिखेरती जाती है, मानो एक प्रतीक हो अँधेरे से लड़ने के हौसले का, जैसा अँधेरा हमारे समाज के बीच रह रहे विकृत मानसिकता वालों के मन में भरा है जो आये दिन हमें ऐसी घटनाओं के समाचारों से दो चार होना पड़ता है, उस अँधेरे को दूर करने के लिए हमारी संवेदनाये मोमबत्ती के सामान जलती हैं. हम समाज के सामने आगे आकर अपना विरोध प्रदर्शित करते हैं, कम से कम इससे तो नहीं चूकते, यह अच्छी बात है.

हम उन हर बातों को जिन्हें हम अपनी व्यस्तता के कारण नजरअंदाज कर जाते हैं उसपर भी कभी वैचारिक मंथन के लिए ऐसे ही सामाजिक समितियों को आगे आना होगा और खास कर युवा वर्ग को जो क्या सोचते हैं आज के सामाजिक परिवेश में क्या बदलाव लाना चाहते हैं. उन्हें सोशल मीडिया पर बिताये गए समय और उर्जा का सही प्रयोग करना होगा. सामाजिक गतिविधियों में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेना होगा, तभी समाज को सही दिशा दिया जा सकेगा. हम क्यों नहीं खुली चर्चा में भाग लें? हम क्यों नहीं ऐसे बैठक और सभाओं का आयोजन करें जिससे कि सभी अपनी बातों को रख सकें और समाज और देश हित की बात कर एक निर्णायक भूमिका निभाएं.

सांसद ने किया यूरिनॉल का उदघाटन

युवा व्यवसायी संघ फुसरो के मांग पर सांसद मद से रामरतन हाई स्कुल फुसरो के समीप नवनिर्मित यूरिनॉल का उदघाटन मंगलवार को गिरिडीह लोकसभा सांसद रविन्द्र कुमार पाण्डेय के द्वारा किया गया। मौके पर सांसद श्री पाण्डेय ने कहा कि फुसरो क्षेत्र के विभिन्न स्थानो मे और तीन यूरिनॉल बनवाने का काम जल्द ही पूरा हो जायगा। साथ ही कहा कि यूरिनॉल जगह जगह बन जाने से व्यवसायियों से लेकर राहगीरो तक को सुविधा मिल पायेगा।

इस अवसर पर युवा व्यवसायी संघ फुसरो के अध्यक्ष आर. उनेश ने कहा कि सांसद मद से बने यूरिनलो की नियमित सफाई के लिए एक सफाई कर्मी को रखा गया है, जिसका वेतन वे अपनी निजी मद से करते है, तथा जब तक संभव हो सकेगा करता रहूँगा।

इस मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी बेरमो सह प्रभारी नगर परिषद कार्यपालक पदाघिकारी अखिलेश कुमार, रामरतन उच्च विद्यालय के प्राचार्य वितेन्द्र नाथ तिवारी, मो० जावेद खान, पार्षद अर्चना सिंह व इंदू देवी, सचिव गुरुपद प्रजापति, यंग ब्लड फुसरो के अध्यक्ष मो० जावेद खान, सांसद के निजी सचिव मृत्युंजय पाडेय व अवधेश दूबे संघ के उपाध्यक्ष मंजूर हुसैन उर्फ जीया, संगरक्षक संतोष श्रीवास्तव, बैभव चैरसिया, रोहित मित्तल, भोला सोनी, ओमप्रकाश उर्फ राजा, सहित प्राचार्य अनिल सिंह, धीरज पाण्डेय, प्रशांत सिंह,भरत अग्रवाल, सबदर मंसुरी, हाजी असगर हुसैन, दिपक अग्रवाल, गुडन चैहान, संजय महतो, आदि लोग मौजूद थे।

छाया / सूत्र : बेरमो आवाज

प्रखंड स्तरीय पंचायत समिति की मासिक बैठक संपन्न

प्रखंड स्तरीय पंचायत समिति की मासिक बैठक, प्रमुख गिरजा देवी की अध्यक्षता में बेरमो प्रखंड परिसर स्थित बहुउद्देशीय भवन में मंगलवार को हुई। यहां प्रखंड विकास पदाधिकारी अखिलेश कुमार ने कहा कि पंचायत आपके द्वार कार्यक्रम के तहत 1 से 14 फरवरी तक बेरमो प्रखंड के विभिन्न पंचायतों में जाति, आय,आवासीय प्रमाण पत्र लाभुकों के लिए शिविर का आयोजन किया जाएगा। वही मॉडल आंगनबाड़ी केंद्र संबंधी सूची दो दिनों के अंदर देने का निर्देश पंचायत सचिव को दिया गया। मध्य विद्यालय जरीडीह बस्ती में शिक्षक प्रतिनियुक्ति के लिए जिला शिक्षा अधीक्षक को पत्र भेजने का प्रस्ताव लिया गया।
दिव्यांग स्वास्थ्य कार्ड हेतु जिला समाज कल्याण को भेजा गया था, उसकी स्थिति स्पष्ट करने हेतु जिला समाज कल्याण को पत्राचार करने पर भी चर्चा हुई। पंचायतों में अब तक कितने मच्छरदानी का वितरण किया गया, उसके पूर्ण विवरण की मांग की गई। साथ ही बाकि बचे हुए मच्छरदानी का जल्द वितरण करने का निर्देश दिया गया। प्रखंड अंतर्गत सहियाओं की कमी रहने के कारण पोलियो निवारण शिविर में हो रही दिक्कत पर विचार विमर्श हुआ। जबकि आधार एवं राशन कार्ड के शिविर में प्रज्ञा केंद्र संचालक के द्वारा अवैध वसूली करने के आरोप की जांच कर दोषी पर कार्रवाई करने का आदेश दिए गए। यहां प्रखंड विकास पदाधिकारी अखिलेश कुमार ने बेरमो सी.डी.पी.ओ. अर्चना सिंह से विकलांग पेंशन व लक्ष्मी लाडली योजना में हो रही दिक्कत का जल्द निपटारा करने की बात कही, एवं पेंशन भोगियों की सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। यहां सी.ओ. एम.एन. मंसूरी ने कहा कि पारिवारिक लाभ योजना में आवेदन कम आ रहे हैं। इस योजना के तहत वैसे परिवार को इसका लाभ देना है जिसमें परिवार के कमाऊ सदस्य का निधन होने पर 20 हजार का अनुदानित लाभ वैसे पीड़ित परिवार को दिया जाना है।
यहां पंचायत समिति सदस्य संजय सिंह ने कहा कि मुख्य बाजार, कॉलेज,अस्पताल स्कूल होते हुए तेज गति से पावर प्लांट का छाई ट्रांसपोर्टिंग वाहन चलने से कई दुर्घटना हो चुकी है. साथ ही सड़क पर पानी छिड़काव के अभाव में प्रदूषण से जनजीवन त्रस्त है। इसपर अविलंब रोक लगनी चाहिए। मौके पर उप प्रमुख करुणा देवी, एम.ओ. वीरेंद्र कुमार,सांसद प्रतिनिधि सुरेंद्र स्वर्णकार, विधायक प्रतिनिधि नवीन पांडेय, मुखिया करुणा देवी, मनीराम मांझी, पंचायत समिति सदस्य ज्योति कुमारी, रोजी फिरदोस, विश्वनाथ मांझी, नागेश्वर महतो, शेर मोहम्मद, सी.सी.एल. अधिकारी शैलेश कुमार, पंचायत सेवक केशव महतो, संतोष नायक, मनपूरन यादव, महिला प्रसार पदाधिकारी जागृति श्रीवास्तव आदि मौजूद थे।

 छाया / सूत्र : बेरमो आवाज

फुसरो नगर परिषद चुनाव पूरे दम ख़म के साथ लड़ेगी आजसू : बिनोद

दिनांक 9/1/2018 दिन मंगलवार को आजसु पार्टी फुसरो नगर एवम् बेरमो प्रखण्ड की सयुक्त बैठक आजसू पार्टी कार्यालय फुसरो नगर मे नगर अध्यक्ष बिनोद बाउरी की अध्यक्षता मे हुई, जिसका संचालन प्रखण्ड सचिव सुरेश महतो ने किया। बैठक में केन्द्रीय समिति निर्देशानुसार आजसू पार्टी पूरे झारखण्ड मे नगर निकाय चुनाव मे पूरे दमखम के साथ उतरने पर विचार विमर्श किया गया है।

बैठक मे फुसरो नगर परिषद् चुनाव को लेकर रणनीति पर चर्चा की गई । बैठक मे नगर अध्यक्ष बिनोद बाउरी ने कहा क़ि नगर की समस्याओ को लेकर हमेशा आजसू पार्टी समाधान हेतु तत्पर रही है । फुसरो नगर परिषद् चुनाव मे आजसू पार्टी पुरे दमखम के साथ उतरेगी । बैठक मे सर्वसम्मति से प्रमोद कुमार महतो एवं विश्वनाथ सिंह को नगर उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया ।

बैठक मे मुख्य रूप से आजसू पार्टी केन्द्रीय सचिव संतोष माहतो केन्द्रीय मुख्यालय सचिव कमलेश महतो जिला सयुक्त सचिव महेंद्र चौधरी बेरमो प्रखण्ड अध्यक्ष मंजूर अंसारी ,नगर उपाध्यक्ष आनन्द रजवार ,बबलू गिरी,अशोक कुमार ,विकाश कुमार ,अजय सिंह,नरेश महतो,रिशारत हुसैन आदि लोग उपस्थित थे।

फुसरो को स्वच्छ रखने में सभी सहयोग करें : अखिलेश कुमार

प्रखंड विकास पदाधिकारी, बेरमो सह प्रभारी कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद फुसरो अखिलेश कुमार व युवा व्यवसायी संघ के अध्यक्ष आर. उनेश ने संयुक्त रुप से फुसरो बाजार के बैंक मोड़ से लेकर पुराना बी.डी.ओ. आॅफिस तक के दुकानदारो के बीच 65 डस्टबीनों का दुकानदारों के बीच वितरण किया।

इस अवसर पर अखिलेश कुमार ने कहा कि फुसरो बाजार को स्वच्छ व सुन्दर बनाने के लिए सभी का सहयोग जरुरी है. इसी प्रयास को सफल बनाने के लिए बाजार के दुकानदारो को डस्टबीन दिया जा रहा है. आगे और भी दुकानदारो को प्राथमिकता के आधार पर डस्टबिन मुहैया कराया जायेगा. प्रतिदिन बाजार में सुबह और शाम झाड़ू लगाकर साफ सफाई की जा रही है.

मौके पर आर.एस. तिवारी, बालेश्वर पांडेय, मंजूर हुसैन उर्फ जिया, गुरुपद प्रजापति, ओमप्रकाश, लालमोहन महतो, भरत वर्मा, वैभव चैरसिया, शिवनाथ गुप्ता, मुकेश ठाकुर, महेन्द्र सिंह आदि मुख्य रुप उपस्थित थे।

छाया / सूत्र : राजेश ‘बेरमो आवाज’

सांसद मद से निर्मित तीसरे यूरिनल का हुआ शुभारम्भ

फुसरो बाजार सब्जी मंडी स्थित ओवरब्रीज के समीप आज दिनांक 30-12-2017 दिन शनिवार को सांसद मद से निर्मित तीसरे यूरिनल का गिरिडीह सांसद रविन्द्र कुमार पांडेय ने फीता काट कर उद्घाटन किया। साथ ही सब्जी मंडी पहुँच कर बाजार की भीड़-भाड़ जैसी समस्या के निदान के लिए लोगो से विचार विमर्श भी किया।

श्री पांडेय ने कहा कि युवा व्यवसायी संघ के आग्रह पर बाजार में आने वाले आम नागरिको की सुविधा के लिए पेशाब घर का निर्माण कराया गया। जरुरत पड़ने पर बाजार में और भी यूरिनल का निर्माण कराया जायेगा। युवा व्यवसायी संघ अध्यक्ष आर. उनेश ने कहा कि संघ की मांग पर यूरिनल का निर्माण सांसद मद द्वारा कराया गया है।

इस अवसर पर बेरमो प्रखंड विकास पदाधिकारी श्री अखिलेश कुमार, 20 सूत्री अध्यक्ष कपिलदेव गाँधी, भा.म.स. नेता रविन्द्र मिश्रा, बालेश्वर पांडेय, अनिल गुप्ता, मो. मंजुर हुसैन उर्फ जिया, मो. इलियास, सुरेश बंसल, प्रकाश मोदी, आर.एस. तिवारी, गुरुपद प्रजापति, ओमप्रकाश, वैभव चैरसीया, संत सिंह, श्रीकांत मिश्रा, संतोष श्रीवास्तव आदि लोग उपस्थित थे.

छाया / सूत्र : राजेश ‘बेरमो आवाज’

बेरमो प्रखंड परिसर में प्रशासन की चेतवानी के बाद भी जारी है जुआ

फुसरो, शहीद निर्मल महतो चौक के पास, सुलभ शौचालय के पीछे, बेरमो प्रखंड कार्यालय के बगल में और बेरमो थाना के सामने प्रखंड कार्यालय के शौचालय के टंकी के ऊपर वर्षों से वहाँ खड़े करने वाले पिक-अप वैन के चालकों और कुछ स्थानीय लोगों द्वारा सरेआम जुआ खेला जाता है.

ऐसा नहीं है कि यह आज कल से खेला जा रहा है वर्षो पूर्व जब बाज़ार में सड़कों का चौडीकरण हुआ था और तब से ही ऑटो व पिक-अप वैन के चालकों ने बेरमो थाना एवं बेरमो प्रखंड के बीच सड़क के किनारे वाहनों को खड़ा करना शुरू किया. उस समय से ही ग्राहक की प्रतीक्षा में खड़े वाहनों के चालकों ने समय व्यतीत करने के लिए सबसे पहले लूडो खेलना शुरू किया. आगे जाकर वही लूडो का खेल शर्तों व रुपयों के खेल में परिणत हो गया जो की अब ताश की पत्तियों से सरेआम खेला जा रहा है.

आस पास लोग नजरें बचा कर गुजरते देखे जा सकते हैं. इस प्रकार खुले में यह खेल सामाजिक संस्कारों के विरुद्ध एक चुनौती के रूप में देखा जाना चाहिए. रोज कई बच्चे जो उस ओर से गुजरते हैं. इस प्रकार के परिवेश का क्या दुष्प्रभाव पड़ सकता है उनके जीवन में किसी को इस बात की चिंता नहीं है. हम समाज के इस रूप को कैसे सहन कर पाते हैं, यह एक विचारणीय विषय-वस्तु है. प्रशासन के नाक के नीचे चल रहे इस खेल को अब तक नहीं रोका जा सका है.

इसे रोकना इसलिए भी आवश्यक है कि जिस स्थान पर यह खेल खेला जाता है वह कोई मनोरंजन स्थल नहीं बल्कि रास्ता है जो कि प्रशासनिक क्षेत्र के परिसीमा में आता है. आने-जाने वालों को यह परिदृश्य कुप्रभावित करता है. यह खेल, खुले में शौच से भी बदतर है जो हमारी मानसिकता को प्रदूषित कर रहा है. ऐसे कृत्यों को तत्काल प्रभाव से बंद कर दिया जाना चाहिए.

विगत दिनों किये गए प्रशासनिक हस्तक्षेप का भी कोई असर नहीं दिखाई दे रहा और खेल बदस्तूर जारी है. यह खेल दिन-ब-दिन जिस प्रकार से गंभीर होता जा रहा है कभी-कभी लड़ाई झगड़े के रूप में तो कभी पी-खाकर गाली-गलौज के रूप में कि उस ओर से किसी भी संभ्रांत का गुजरना मुश्किल हो जाता है. यह समस्या प्रशासन व समाज में मुंह पर मुहांसे के सामान है और एक प्रश्नचिन्ह है. यदि समय रहते इसका हल न निकाला गया तो वह दिन दूर नहीं जब इसका प्रभाव हमारे बाल-बच्चों पर दिखने लगे.

अपेक्षा है कि समाज व प्रशासन की ओर से कुछ आवश्यक कदम उठाये जायेंगे ताकि इस प्रकार की गतिविधियों पर लगाम लग सके.

नक्सलियों के बंद का सामान्य प्रभाव : सरकारी प्रतिष्ठान बंद, निजी रहे खुले.

भाकपा माओवादी के ऑपरेशन “ग्रीन हंट” तथा हमले में सेना के अस्त्र-शस्त्र के उपयोग के विरोध में एक दिवसीय बंद के आह्वान का सामान्य प्रभाव लगभग समस्त कोयलांचल पर देखने को मिला. आज पूरे बेरमो अनुमंडल में बंद का सामान्य देखा गया. सी.सी.एल. के कथारा तथा बी.एंड.के. व ढोरी में कोयले एवं छाई का ट्रांसर्पोटिंग ठप रहा. जबकि कोलियरियों में कोयले का उत्पादन होता रहा. वहीं कोयले के डिस्पैच पर प्रभाव पड़ा.

 

नक्सलियों के बंद का सामान्य प्रभाव : सरकारी प्रतिष्ठान बंद, निजी रहे खुले.
नक्सलियों के बंद का सामान्य प्रभाव : सरकारी प्रतिष्ठान बंद, निजी रहे खुले. (छाया/सूत्र : बेरमो आवाज)

सरकारी बैंक बंद रहे, रेलवे का परिचालन सामान्य रहा, फुसरो बस स्टैंड में बिहार, औरंगाबाद, नवादा, छपरा, दरभंगा, सिवान आदि जाने वाली बसें नहीं चलीं, जिसके कारण यात्रियों को काफी कठिनाई का समाना करना पड़ा. इस दौरान कई निजि स्कूल बंद रहे. जबकि सरकारी कई विद्यालय खुले रहे. फुसरो बाजार, करगली बाजार, जरीडीह बाजार, में कई दुकाने खुली रही. वही फुसरो बाजार में पेट्रोल पंप बंद रहने कारण दोपहिया वाहन मालिको को कठिनाई का समाना करना पड़ा.

मालूम हो कि भाकपा माओवादी द्वारा इस प्रकार एक दिवसीय बंद का आह्वान प्रायः ही होता रहता है. पांच वर्ष पूर्व सन 2012 में जून के महीने में 12 तारीख को फुसरो बाज़ार पर हुए हमले को कोई नहीं भूला है अब तक, जिसका मुख्य कारण उनके बंद के आह्वान को हल्के में लेना रहा था. उस समय से ही जब भी इस प्रकार का आह्वान होता है तो सरकारी तंत्र अपनी सुरक्षा का हवाला देते हुए कामकाज ठप्प कर ही देते हैं, चाहे बैंक हो या अन्य सरकारी दफ्तर सभी जरा सी भी भनक लगती है की माओवादियों ने बंद बुलाया है बस हो गयी छुट्टी.

किसी भी नेता अथवा बड़े आयोजन पर पूरा प्रशासन जमा हो जाता है तो ऐसे बंद के आह्वान के दिन क्यों कमी पड़ जाती है उनकी. क्या प्रशासन को अपने ही सहभागी पुलिस पर भरोसा नहीं, कि उनके सुरक्षा चक्र में भीतर अपने काम काज को सुचारू रख सकें. हमारे समाज का एक वर्ग ऐसा भी है जो इस दिन का इन्तेजार भी करता है की कब बंद का आह्वान हो और छुट्टी मिले इस काम काज से. पर इन सबसे अलग बात करें कि क्यों नक्सलियों के मुख्यधारा में आने की सभी योजनाये कारगर सिद्ध नहीं हो पातीं. कहाँ कमी रह जाती है. क्यों ऑपरेशन ग्रीन हंट जैसी कार्रवाई के लिए सरकार विवश होती है. जिस प्रकार की मानसिकता वाले लोग नक्सलियों के बीच पाए जाते हैं उनसे निपटने के लिए क्यों नहीं कोई अहिंसक निति सरकार अपनाती है. ये कुछ ऐसे अनसुलझे प्रश्न हैं जो मन को विचलित कर जाते हैं….

 

विशाल हिन्दू सम्मलेन, ऐतिहासिक भीड़, साध्वी सरस्वती के उद्घोष पर जयघोष

हिन्दू कल्याण मंच, बेरमो, जिला- बोकारो, झारखण्ड द्वारा आयोजित विशाल हिन्दू सम्मेलन में उमड़ी भीड़ ऐतिहासिक थी. कोयलांचल की धरती पर ऐसा जन सैलाब विरले ही देखने को मिला है. गौ-वध निषेध हो, विधर्मी हुए हिन्दुओं की घर-वापसी हो और कश्मीर सहित आतंकवाद के मुद्दे पर खुल कर बोलीं विश्व हिन्दू परिषद की राष्ट्रीय प्रवक्ता साध्वी सरस्वती. जय-जय श्रीराम के जयघोष से गूँज उठा पूरा कोयलांचल. हिन्दू कल्याण मंच के अध्यक्ष रामू दिगार को अपनी तलवार भेंट करते हुए उन्होंने कहा कि अपने क्षेत्र में वे हिंदुत्व के प्रति सक्रियता इसी भांति दिखाते रहें.

साध्वी सरस्वती ने कहा कि हिन्दू धर्म की सनातनी परंपरा सदियों से चली आ रही है. सनातन धर्म हमारी जननी है. सनातन परंपरा का रक्षण करना हम सभी का धर्म है.  धन का लोभ देकर लोग धर्मांतरण कराते है. झारखंड एवं बिहार में ईसाई मिशनरियों द्वारा धर्म-परिवर्तन का काम किया जा रहा है जिसे रोका जाना नितांत आवश्यक है. पूरे भारत वर्ष में वर्षों से धर्म-परिवर्तन का कारोबार चला आ रहा है. इसके लिए ऐसी संस्थाओं को मुंहतोड़ जबाब देना है. जिसके लिए ऐसे ही युवाओं को आगे आना होगा.

विशाल हिन्दू सम्मलेन, ऐतिहासिक भीड़, साध्वी सरस्वती के उद्घोष पर जयघोष
विशाल हिन्दू सम्मलेन, ऐतिहासिक भीड़, साध्वी सरस्वती के उद्घोष पर जयघोष

गौ माता का दुश्मन कभी हमारा मित्र नहीं हो सकता. देश में गौ-हत्या पूर्ण रूप से बंद होना चाहिए. सभी हिन्दू अपने घरो में गौ-पालन करें. गाय में सभी देवों का वास होता है. हर घर में गौ-गीता-रामायण होनी ही चाहिए. “भारतीय संस्कृति किसी को नहीं छोड़ती, पूँछ में आग लगाओगे तो लंका जला डालेगें“, देश में हिन्दूत्व की भावना बढ़ रही है. भारत विभिन्न भाषा व त्योहारों का देश है. सभी एक साथ कार्य करते है तो हिन्दुत्व कहलाता है. सन्यास का काम भगवा पहनना नहीं है. देश के युवाओं का मार्ग दर्शन करना है.

इस सम्मलेन में युवाओं को भारतीय संस्कृति, सभ्यता व धर्म की रक्षा का संकल्प दिलाते हुए उन्होंने आगे कहा कि मुझे गर्व है कि मैं हिन्दू हूँ और हिन्दुओ से कहना चाहती हूँ, राम मंदिर को बनाने में आप आगे आईए. कहा कि हिन्दुओ की आस्था से राम मंदिर बनेगा. भारत में रहना है तो भारत को मां कहना पड़ेगा. कई वर्षों बाद भारत को अच्छा प्रधानमंत्री मिला है. महिलाओ के बल पर ही भारत विश्व गुरु बनेगा. हिन्दुओ को छेड़ने वाले को छोड़ेगे नहीं.

चित्रकूट से आये स्वामी श्री सीताराम शरण महाराज ने उपस्थित भीड़ से कहा कि “हाय-हेल्लो छोड़ीये और जयश्री राम कहिए”. अपनी शैली में बोलते हुए उन्होंने आगे कहा कि भारत अनादी काल से महापुरुषों संतो महात्माओ की भूमि रही है, जहाँ से अध्यात्मिक, सुमधुर वायु फैलाता रहा है. हमारा भारत पुनः विश्व गुरु के स्थान को प्राप्त कर सके, उसके लिए हम सब को प्रयास करना होगा.

इससे पूर्व बेरमो प्रखंड कार्यालय से विशाल जुलूस जय श्रीराम, जय-जय श्रीराम के जयघोष के साथ निकला जो फुसरो बाजार से पुराना बीडीओ आॅफिस होते हुए करगली फुटबाॅल मैदान, अपने निर्धारित सभा स्थल तक पहुंचा. कार्यक्रम में टी.राजा नहीं आ सके तो उनके इंतजार को विराम दे, सभा की शुरुआत की गयी. हजारों की संख्या में लोग भगवा ध्वज के साथ जयश्री राम का जयघोष करते चल रहे थे. यह दृश्य अदभुत था.

: निष्कर्ष

इस प्रकार के आयोजन से यह पता चलता है कि धर्म ने सभी को एकात्म किया है, क्योंकि इसमें सभी वर्गों के लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज की. हमें धार्मिक होना ही चाहिए, पर इसका तात्पर्य हमारे द्वारा किये गए सत्कार्य से होना चाहिए. सभा में कितने ऐसे थे जिन्होंने शायद पहली बार जयश्री राम बोला हो. पर इस प्रकार के सम्मलेन ने उन्हें एक राह दिखाई है उनके झिझक को तोड़ा है. इस प्रकार के सम्मेलनों के अभाव से ही हम अपनी संस्कृति को भूलते जा रहे हैं. सेल्फी की धूम रही, फोटो से पूरा सोशल मिडिया भरा पड़ा है. रोड पर अनाथ विचरती गायों का ख्याल रखने वाला कोई नहीं, सभी हिन्दू गायों का दूध निकाल कर उन्हें सड़कों पर घूमने को छोड़ देते हैं फिर चाहे उनका जो भी हो और गौ रक्षा की बात करते हैं, और तो और जो हिन्दू ऐसा करते हैं उनको बोलने वाला कोई हिन्दू सामने क्यों नहीं आता. सिर्फ जय श्री राम कहने से आप हिन्दू नहीं हो जाते राम चरित्र को अपनाना भी पड़ता है. अपने सामाजिक उतरदायित्व को समझ कर जब आप कोई काम करते हैं जिससे किसी अन्य का भला होता हो तो वह होगा असली हिंदुत्व. 

जय-जय श्री राम.

विशाल हिन्दू सम्मलेन 18 दिसम्बर को

दिनांक 18-12-2017 दिन सोमवार को बेरमो कोयलांचल की धरती पर, करगली फुटबॉल ग्राउंड में हिन्दू कल्याण मंच, बेरमो, जिला- बोकारो, झारखण्ड द्वारा विशाल हिन्दू सम्मेलन का आयोजन होने जा रहा है. इस सम्मेलन के मुख्य अतिथि माननीय तेलंगाना विधायक, हिन्दू हृदय सम्राट श्री टी. राजा सिंह जी होंगे,

विशिष्ट अतिथि के रूप में हम सब के गुरु महंत श्री स्वामी सीताराम शरण जी उपस्थित रहेंगे जिन्होंने पिछले वर्ष अपने उद्घोष से अभूतपूर्व वातावरण का निर्माण किया था, और सोये हुए हिन्दुओं में हिंदुत्व का अलख जगाया था. एक बार पुनः वे हम सभी के साथ होंगे.

इनके साथ साथ साध्वी सरस्वती दीदी की उपस्थिति और उनका सम्मलेन में हिन्दुओं का संबोधन आशा ही नहीं पूर्ण विश्वास है कि इस सम्मलेन को अभूतपूर्व बना देगी.

इसलिए हिन्दू कल्याण मंच, बेरमो आप सभी हिन्दू भाइयों व हिंदुत्व को अपनाने वाले सनातन परंपरा के अनुगामियों व संस्कृति प्रेमियों से आग्रह करता है कि करगली फुटबॉल ग्राउंड में 18 दिसम्बर को आयोजित इस सम्मेलन में सम्मिलित होकर को इस आयोजन को सफल बनायें. भरी संख्या में अपनी उपस्थिति सुनिश्चित करें व इस सम्मलेन को एक संगठनात्मक स्वरूप प्रदान करें और अपनी हिंदुत्व एकता का परिचय अवश्य दें.

सम्मलेन हेतु उस दिन  एक  शोभायात्रा सुबह 9 बजे से बेरमो प्रखंड कार्यालय परिसर से करगली फुटबाल ग्राउंड तक के लिए आरंभ होगी तथा करगली फुटबॉल ग्राउंड पहुँचने के पश्चात सम्मलेन का शुभारम्भ होगा.

निवेदक : रामू दिगार (केन्द्रीय अध्यक्ष हिन्दू कल्याण मंच, बेरमो)

“हर हिन्दू एक शेर है, बस जागने को देर है”