मुहर्रम
उत्सव
1

मुहर्रम

इमाम हुसैन की शहादत की याद में मुहर्रम मनाया जाता है. यह कोई त्योहार नहीं बल्कि मातम का दिन है. इमाम हुसैन अल्लाह के रसूल पैगंबर मोहम्मद (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के नाती थे. यह हिजरी संवत का प्रथम महीना है. मुहर्रम एक महीना है, जिसमें शिया मुस्लिम दस दिन तक इमाम …

फुसरो दुर्गा-मण्डप में माता की झांकी
नवरात्री
2

दशहरा – १०

प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी, तृतीयं चन्द्रघंटेति कूष्माण्डेति चतुर्थकम्, पंचमं स्क्न्दमातेति षष्ठं कात्यायनीति च, सप्तमं कालरात्रीति महागौरीति चाष्टमम्, नवमं सिद्धिदात्री च नवदुर्गाः प्रकीर्तिताः || आप सभी को विजयादशमी  की शुभकामनायें || आप सभी को टीम phusro.in की तरफ से दशहरा की हार्दिक शुभकामनायें, माँ आप सबकी मनोकामनाओं को पूरा करें. आज …

सिद्धिदात्री
नवरात्री

सिद्धिदात्री – ९

: : सिद्धिदात्री : : -: माता के सप्तम रूप के उपासना का मन्त्र :- सिद्धगन्धर्वयक्षाघैरसुरैरमरैरपि, सेव्यमाना सदा भूयात् सिद्धिदा सिद्धिदायिनी. माँ दुर्गाजी की नौवीं शक्ति का नाम सिद्धिदात्री हैं.  ये सभी प्रकार की सिद्धियों को देने वाली हैं.  नवरात्र-पूजन के नौवें दिन इनकी उपासना की जाती है.  इस दिन शास्त्रीय विधि-विधान …

महागौरी
नवरात्री

महागौरी – ८

: : महागौरी : : -: माता के अष्टम रूप के उपासना का मन्त्र :- श्वेत वृषे समारूढ़ा श्वेताम्बर धरा शुचि:, महागौरी शुभं दद्यान्महादेव प्रमोददा. माँ दुर्गाजी की आठवीं शक्ति का नाम महागौरी है.  दुर्गापूजा के आठवें दिन महागौरी की उपासना का विधान है.  इनकी शक्ति अमोघ और सद्यः फलदायिनी है.  इनकी उपासना …

कालरात्रि
नवरात्री

कालरात्रि – ७

: : कालरात्रि : : -: माता के सप्तम रूप के उपासना का मन्त्र :- एकवेणी जपाकर्णपूरा नग्ना खरास्थिता, लम्बोष्ठी कर्णिकाकर्णी तैलाभ्यक्तशरीरिणी. वामपादोल्लसल्लोहलताकण्टक भूषणा, वर्धन्मूर्धध्वजा कृष्णा कालरात्रिर्भयंकरी. माँ दुर्गाजी की सातवीं शक्ति कालरात्रि के नाम से जानी जाती हैं.  दुर्गापूजा के सातवें दिन माँ कालरात्रि की उपासना का विधान है.  इस दिन …

कात्यायनी
नवरात्री

कात्यायनी – ६

: : कात्यायनी : : -: माता के षष्ठम रूप के उपासना का मन्त्र :- चंद्र हासोज्ज वलकरा शार्दूलवर वाहना, कात्यायनी शुभंदद्या देवी दानव घातिनि. माँ दुर्गा के छठे स्वरूप का नाम कात्यायनी है.  उस दिन साधक का मन ‘आज्ञा’ चक्र में स्थित होता है.  योगसाधना में इस आज्ञा चक्र का अत्यंत …

स्कन्दमाता
नवरात्री
1

स्कन्दमाता – ५

: : स्कन्दमाता : : -: माता के पंचम रूप के उपासना का मन्त्र :- सिंहासनगता नित्यं पद्माश्रितकरद्वया, शुभदास्तु सदा देवी स्कंदमाता यशस्विनी. नवरात्रि का पाँचवाँ दिन स्कंदमाता की उपासना का दिन होता है.  मोक्ष के द्वार खोलने वाली माता परम सुखदायी हैं.  माँ अपने भक्तों की समस्त इच्छाओं की पूर्ति …

कूष्मांडा
नवरात्री

कूष्मांडा – ४

: : कूष्मांडा : : -: मां के चतुर्थ रूप के उपासना का मंत्र :- सुरासम्पूर्णकलशं रुधिराप्लुतमेव च, दधाना हस्तपद्माभ्यां कूष्माण्डा शुभदास्तु मे. नवरात्र-पूजन के चौथे दिन कूष्माण्डा देवी के स्वरूप की ही उपासना की जाती है.  इस दिन साधक का मन ‘अदाहत’ चक्र में अवस्थित होता है. त्रिविध तापयुत संसार …

चन्द्रघंटा
नवरात्री

चन्द्रघंटा – ३

: : चन्द्रघंटा : : -: मां के तृतीय रूप के उपासना का मंत्र :- पिण्डजप्रवरारुढा चण्डकोपास्त्रकैर्युता, प्रसादं तनुते मह्यां चन्द्रघण्टेति विश्रुता. शक्ति के तीसरे रूप में विराजमान चन्द्रघंटा मस्तक पर चंद्रमा को धारण किए हुए है. माँ दुर्गाजी की तीसरी शक्ति का नाम चंद्रघंटा है. नवरात्रि उपासना में तीसरे …

नवरात्री

ब्रह्मचारिणी – २

-: : ब्रह्मचारिणी : :- -: मां के द्वितीय रूप के उपासना का मंत्र :- या देवी सर्वभूतेषु सृष्टि रूपेण संस्थिता, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै, नमस्तस्यै नमो नम: दुर्गा जी के दूसरे रूप का नाम ब्रह्मचारिणी है.  नवरात्र पर्व के दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा-अर्चना की जाती है.  साधक इस दिन अपने मन …