हजारीबाग में कवि गोष्ठि और परिचर्चा

राष्ट्रीय कवि संगम के रामगढ़ जिला के सदस्यों द्वारा हजारीबाग में कवि गोष्ठि और परिचर्चा

राष्ट्रीय कवि संगम ,झारखंड के महासचिव श्री सरोज झा ,रामगढ़ जिला के संयोजक श्री राज रामगढ़ी ,रामगढ़ जिला के अध्यक्ष श्री राकेश नाजुक की उपस्थिति मे राजकीय शिक्षक प्रशिक्षण महाविद्यालय, हजारीबाग में राष्ट्रीय कवि संगम की हजारीबाग की गोष्ठी सह परिचर्चा का आयोजन किया गया ! इस गोष्ठि में रामगढ़ जिला के वरिष्ठ कथाकार श्री चंद्रिका ठाकुर देशदीप की गरिमायी उपस्थिति से माहौल बहुत सुंदर बन गया !

इस अवसर पर हजारीबाग के शशि बाला जी को उनकी पुस्तक के लिए सम्मानित किया गया,,गोष्ठी में काब्य पाठ करने वालो में पूनम त्रिवेदी, शम्पा बाला, अनिता महतो, अमित मिश्रा आदि शामिल थे, राकेश नाजुक ने अपने गीत से सबको मोहित किया वही श्री देशदीप ,श्री राज रामगढ़ी ने अपनी रचनाओ से सबका मन जीत लिया, सरोज झा ने अपनी रूहानी गजलों से सबको मोहित कर दिया ,,,गोष्ठि के बाद सर्वाम्मति से मोना बग्गा जी को को हजारीबाग जिला अध्यक्ष और अनंत ज्ञान को जिला महासचिव चुना गया !
इस अवसर पर महाविद्यालय के व्याख्याता डॉ मनोज कुमार ने भी अपने विचार रखे ,!

विष्णुगढ़ में हुआ कवि सम्मेलन : राकेश नाजुक हुए सम्मानित

उत्सव : मांडू विधायक जयप्रकाश भाई पटेल जी का जन्मदिन का अवसर
*********
विष्णुगढ़ के प्लस टू इंटर कॉलेज में कवियत्री और समाजसेविका श्रीमती अनिता महतो जी के द्वारा काव्यवर्षा नाम से कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया ! ये काव्यवर्षा मांडू के विधायक श्री जयप्रकाश भाई पटेल जी के जन्मदिवस के शुभ अवसर पर किया गया ! आयोजन में बच्चों की चित्रकला प्रतियोगिता ,मूक नाटक, नृत्य प्रतियोगिता के साथ साथ कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया !

आयोजन समिति के सदस्यों ने विधायक जी का स्वागत बुके देकर और माला पहनाकर किया ! इस शुभअवसर पर रामगढ़ जिला के उभरते गीतकार राकेश नाजुक ने अपने गीतों से दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित कर लिया,,राकेश के गीत ख्वाब है प्रीत है गीत संगीत है को लोग साथ साथ पढ़ रहे थे ! राकेश नाजुक ने विधायक जी की माँ के सम्मान में एक मुक्तक * माँ की आंखों में जब भी उतरता हूँ मैं ,,खौफ से एक पल भी न डरता हूँ मैं * पढ़कर सबका मन जीत लिया ,,कार्यक्रम का समापन विधायक जी के हाथों केक काटकर हुआ ! साथ ही सभी कवियों के साथ साथ राकेश नाजुक जी को विधायक जी ने मोमेंटो और उपहार देकर सम्मानित किया !

बाहर से आए कवियों में अनन्त महेंद्र,अजय धुनि,रेणु मिश्रा,अशोक गुप्ता ,पुष्कर राज,अनंत ज्ञान, नितेश सागर,रविन्द्र रवि ने भी अपनी रचनाओ से शमा बांधा,सभी ने अनिता महतो जी के द्वारा उठाए गए इस कदम की खूब प्रंशसा की !

राष्ट्रीय कवि संगम धनबाद जिला इकाई द्वारा राज्य स्तरीय कवि सम्मेलन का आयोजन

दिनांक 21 जनवरी 2018 को आई.एस.एम. धनबाद में राष्ट्रीय कवि संगम धनबाद जिला इकाई द्वारा राज्य स्तरीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसमें झारखंड के कुल 108 कवि गणों ने भाग लिया. राष्ट्रीय कवि संगम प्रायः ही ऐसे आयोजनों द्वारा राष्ट्र जागरण का पावन कार्य करता है. युवा और विशेष कर नवोदित कवियों की काव्य शक्ति के बल प्रदान कर उनको संयोजित करने का यह कार्य वास्तविकता में एक सराहनीय कार्य है. इसी क्रम में एक और कड़ी जोड़ते हुए विगत 21 जनवरी को धनबाद में एक और आयोजन किया गया.

इस कवि सम्मलेन में बोकारो जिला इकाई के सम्मानित कवियो ने भी भाग लिया. आयोजन की समाप्ति पर विभिन्न कवियों को उनकी प्रस्तुति एवं रचनाओं के लिए सम्मानित भी किया गया. सम्मेलन में हास्य , श्रृंगार, और वीर रस की कविताओं के साथ साथ देश भक्ति, समाजिक, शिक्षा, बेटी बचाओ और जनजागरण जैसे महत्वपूर्ण और गंभीर मुद्दों पर आधारित कविताओं का पाठ विभिन्न कवियों द्वारा किया गया. राष्ट्रीय कवि संगम झारखण्ड इकाई के प्रांतीय सचिव राजेश पाठक की प्रस्तुति “घर न चाहिए न कोई द्वार चाहिए, देश को ऊंचाईयों का ज्वार चाहिए” कविता को काफी सराहना मिली.

राष्ट्रीय कवि संगम बोकारो जिला इकाई के अध्यक्ष डॉ. श्याम कुमार भारती की “टूटे रिश्तों में जान बाकी हो अगर, प्यार से सींच कर अब हरा कीजिये” आपसी, पारिवारिक और सामाजिक संबंधों पर आधारित कविता काफी सराही गई. बताते चलें कि डॉ. श्याम कुमार भारती राष्ट्रीय कवि संगम के बोकारो इकाई में अध्यक्ष पद पर रहते हुए अपनी जिम्मेदारियों को निभाने के क्रम को आगे बढाते हुए अपने आस-पास के क्षेत्रों में नवीन कवियों को एक सूत्र में जोड़ने का कार्य भी कर रहे हैं. फुसरो से इस कवि सम्मलेन में भाग लेने वाले अन्य कवियों में सुनील सिंह, नरेन्द्र प्रताप सिंह, विद्या भूषण मिश्रा एवं टी. डी. नायक प्रमुख थे.

फुसरो में होगा अखिल भारतीय कवि सम्मलेन का आयोजन

कवि सम्मलेन के बारे में बताते आयोजन समिति के अध्यक्ष डॉ.श्याम कुंवर भारती (दायें) और महासचिव नितेश सागर
कवि सम्मलेन के बारे में बताते आयोजन समिति के अध्यक्ष डॉ.श्याम कुंवर भारती (दायें) और महासचिव नितेश सागर

दिनांक ०९.१२.२०१७ को संध्या ५ बजे से बेरमो प्रखण्ड के बहुउद्देशीय भवन में राष्ट्रीय कवि संगम बोकारो जिला इकाई और महिला कल्याण समिति ढोरी के सौजन्य से अखिल भारतीय कवि सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा. राष्ट्र जागरण को लेकर आज की पीढी को नई चुनौती से अवगत कराने का उद्देश्य है, कई राज्यों से कुल १४ कवियों द्वारा काव्यपाठ किया जायेगा.

उपरोक्त जानकारी देते हुए आयोजन समिति के अध्यक्ष डॉ.श्याम कुंवर भारती और महासचिव नितेश सागर ने कहा कि इस अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में भोपाल के विजय गिरी, कानपुर की अनीता वर्मा, पंजाब के दिनेश देवगगढ़िया, दिल्ली से पंकज झा, रामगढ़ के राकेश नाजुक, सरोज कान्त झा, धनबाद के मुकेश आनंद, बसंत जोशी, राहुल कुमार, पटना से समीर परिमल, रांची से सीमा तिवारी सहित कुल १४ कवि और कवयित्री भाग लेंगे.

इस कवि सम्मलेन को इस क्षेत्र के लिए एक उपलब्धि के रूप में देखा जा रहा है, क्योंकि राष्ट्रीय स्तर की संस्था राष्ट्रीय कवि संगम से जुड़े कवियों का इसमें अभूतपूर्व योगदान रहने वाला है. इससे पूर्व भी कई बार विभिन्न संस्थाओं द्वारा इस क्षेत्र की जनता ने कवि सम्मेल्लन का लाभ उठाया है पर इस कवि सम्मलेन की सबसे विशेष बात यह है की युवाओं में राष्ट्र के प्रति सम्मान और प्रेरणा भरने का प्रयास और उद्देश्य के साथ इसका आयोजन किया जा रहा है.

फुसरो ई-पत्रिका अखिल भारतीय कवि सम्मलेन के आयोजकों को इस आदर्श प्रयास के लिए शुभकामना देती है और आशा करती है कि यह आयोजन पूरे कोयलांचल में एक मिसाल कायम करे.