कविता
1

क्षणिकाएं : ०४

|| भगवान || भगवन इस संसार के कण-कण में तुम व्याप्त हो. सर्वव्यापी, अंतर्गामी, फिर भी पहुँच के पार हो. मैं वियोगी, प्रेमाभाव में माया-बद्ध जीवात्मा. किस विधि मिलूं मैं काट के बंधन, दया करो परमात्मा. योग न जानू, क्षेम न जानू, कर्म विधि न राग है. न त्याग, ना …

कविता

क्षणिकाएं : ०३

|| कर्मयोगी || दु:सह्य वेदना, असाध्यप्राय कार्य, श्याह लक्ष्य, निष्फल चेष्टा. शून्य प्रतिफल, व्यथा तेरे अंतर्मन की. हे! प्राण प्रतिष्ठित, किंचित न हो व्यथित, शांत कर उदवेदना, लक्ष्य का आह्वान कर, तू कर्मयोगी, माना भुक्तभोगी, भाग्य का सत्कार कर. क्या हुआ यदि गिर पड़ा, चोटिल हो निष्प्राण नहीं. चल उठ, …

कविता

क्षणिकाएं : ०२

|| वसुंधरा || सरस बरस रे मेघ तू, के रसहीन धरा हुई. न ओज है, न तेज है, असुध वसुंधरा हुई. कहाँ गई, मृदा की गंध, रंग की विचित्रता. पवन में वह सौम्यता, और पुष्प में मृदुलता. अतीत की घटामयी, सुखदायनी विस्मृतियाँ, थीं विश्व में जो श्रेष्ठ, वो संस्कृतियाँ कहाँ …

कविता

क्षणिकाएं : ०१

|| यौवन || आरूढ़ रश्मि रथ पे, नवजीवन की किरण. प्रफुल्लित मन मृदुल, तृप्त अनावृत यौवन. उच्छृल नदी प्रतिविम्बित, समृद्ध रवि रक्त कण. समीर मंद वेग में, उन्मत्त च्यूत जिर्ण पर्ण. विस्तृत क्षिति निजभाववश, चहुँ दिक वृत्त नील वर्ण. खग-वृंद श्रृंगकलवरत, मदसिक्त भू आसक्त मन. संयुक्त मुक्त भुक्त है, हो …

मैडम आंगनबाड़ी के मस्टराईन सेवा में इनकर लागल रहीला
Music Manch

मैडम आंगनबाड़ी के मस्टराईन सेवा में इनकर लागल रहीला

मैडम आंगनबाड़ी के मस्टराईन सेवा में इनकर लागल रहीला म्यूजिक मंच की प्रस्तुति, मैडम आंगनबाड़ी के मस्टराईन भोजपुरी के सदाबहार गीतों पर फिल्माए गए गाने.

माय धन खा के सधाय दिहलू आज समियाना हिलाय दिहलू
Music Manch

माय धन खा के सधाय दिहलू आज समियाना हिलाय दिहलू

माय धन खा के सधाय दिहलू आज समियाना हिलाय दिहलू माय धन खा के सधाय दिहलू, भोजपुरी ठिठोली, रवि कुमार एवं साथी अभिनीत, भोजपुरी गीत संगीत एवं गायन, म्यूजिक मंच प्रस्तुति,

ढीला बा पाटी ढीला बा पावा काहे तबाह कैले बानि रावा
Music Manch

ढीला बा पाटी ढीला बा पावा काहे तबाह कैले बानि रावा

ढीला बा पाटी ढीला बा पावा काहे तबाह कैले बानि रावा ढीला बा पाटी ढीला बा पावा, भोजपुरी ठिठोली, रवि कुमार एवं साथी अभिनीत, भोजपुरी गंवई गीत, म्यूजिक मंच प्रस्तुति,

कहे रोज बढ़ीयालू तूफ़ान लागेलू ई जवानी में खतरा के निशान लागेलू
Music Manch

कहे रोज बढ़ीयालू तूफ़ान लागेलू ई जवानी में खतरा के निशान लागेलू

कहे रोज बढ़ीयालू तूफ़ान लागेलू ई जवानी में खतरा के निशान लागेलू कहे रोज बढ़ीयालू तूफ़ान लागेलू, ई जवानी में खतरा के निशान लागेलू, रवि कुमार अभिनीत, भोजपुरी गीत, म्यूजिक मंच कि प्रस्तुति,

छुट्टिये के दिनवा बलमुआ हमार एतवार भुखेला
Music Manch

छुट्टिये के दिनवा बलमुआ हमार एतवार भुखेला

छुट्टिये के दिनवा बलमुआ हमार एतवार भुखेला छुट्टिये के दिनवा बलमुआ हमार एतवार भुखेला, दरद न बुझेला हमार एतवार भुखेला, रवि कुमार अभिनीत, भोजपुरी गीत, म्यूजिक मंच प्रस्तुति,

आज तक ए दादा हम न खयनी अईसन मार,
Music Manch

आज तक ए दादा हम न खयनी अईसन मार

आज तक ए दादा हम न खयनी अईसन मार, आज तक ए दादा हम न खयनी अईसन मार, म्यूजिक मंच द्वारा प्रस्तुत, भोजपुरी कोरस गीत